समाजवादी पार्टी

4-5 नवम्बर 1992 को लखनऊ में मा0 मुलायम सिंह यादव जी के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी अस्तित्व में आई।


समाजवादी पार्टी ऐसी समाजवादी व्यवस्था में विश्वास करती है जो समानता के सिद्धांत पर कार्य करते हुए पार्टी का साम्यवादी और प्रजातांत्रिक ढाँचा निर्मित करती है। समाजवादी सदैव एवं सतत् कमजोर वर्ग के उत्थान और साम्प्रदायिक ताकतों के विरुद्ध खडे़ रहने में विश्वास रखती है। 

स्वतंत्रता सैनानी, समाजवादी एवं महान सांसद डा0 राम मनोहर लोहिया समाजवादी पार्टी के मार्ग-दर्शक हैं। राम मनोहर लोहिया का भारतीय स्वतंत्रता के प्रति निःस्वार्थ संर्घष और समाज के विभिन्न वर्गों को एक साथ लाने की जो अद्भुत योग्यता थी उसने नेताओं, युवाओं और कार्यकर्ताओं को प्रभावित और प्रेरित किया। लोहिया जी ब्रिटिश शासन के विरुद्ध स्वतंत्रता संघर्ष के दौरान कई बार जेल गये, वे अपने सम्पूर्ण जीवन में सामाजिक समानता के लिये कड़ाई व पक्के इरादे से संघर्ष करते रहे।

लोहिया जी महात्मा गांधी के विचार से अत्यधिक प्रभावित थे जिन्होंने स्वतंत्रता आन्दोलन के दिनों अथक प्रयास किया और ब्रिटिश शासन के खिलाफ लेख भी लिखे, यहाँ तक कि योरोप में ब्रिटिश शाही शासन के विरुद्ध जागरुकता फैलाने का कार्य किया और स्वतंत्रता के पश्चात् स्वयं को ज़मीनी स्तर की राजनीति को समर्पित कर दिया, जिसमें किसानों का हित, विकास कार्य और सामाजिक अन्याय के विरुद्ध संघर्ष इत्यादि था। उन्होंने पूँजीवादी- जागीरदारी परम्परा को समाप्त करने के लिये भी कार्य किया।

लोहिया जी की लोगों को जागरुक करने और सत्याग्रह पर उनके तेजस्वी लेख लिखने और सामाजिक समस्याओं की उनकी स्वभाविक समझ इत्यादि अति विशिष्ट गुणों ने उन्हे भारत का प्रमुख समाजवादी नेता बना दिया।

Aug 20, 2014 | Posted by | Comments Off
Premium Wordpress Themes by UFO Themes