बीज विधायन संयंत्र का लोकार्पण

feature_20-nov-2016_01

इण्डियन फारमर्स फर्टिलाइजर कोआपरेटिव लि0, इफको एवं सहयोगी संस्था आईएफएफडीसी लि0 द्वारा अध्यक्ष जिला सहकारी बैंक एवं उत्तर प्रदेश ग्राम विकास और विधायक जसवंत नगर शिवपाल सिंह यादव ने आज इटावा जनपद की तहसील ताखा में बीज विधायन संयंत्र का लोकार्पण किया।
इस अवसर पर एस. एस. मैमोरियल महाविद्यालय में आयोजित रबी फसल विचार गोष्ठी में बोलते हुए श्री शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि 800 क्विंटल बीज उत्पादन हेतु फाउन्डेशन सीड किसानों को उपलब्ध कराया जा चुका है। फाउन्डेशन बीज का उत्पादन एवं ग्रेडिंग करके उच्च गुणवत्ता युक्त बीज की उपलब्धता बीज विधायन केन्द्र ताखा के द्वारा किसानों को उपलब्ध कराया जायेगा जिससे कृषक उन्नत बीज की बुआई कर अधिक उत्पादन ले सकेंगे एवं उनकी आय में लगभग 20 से 25 प्रतिशत वृद्धि होगी।
शिवपाल सिंह यादव ने किसानों से अपील की कि इफको द्वारा शुरु किये जा रहे बीज विधायन केन्द्र सभी किसान भाईयों के लिए अत्यन्त उपयोगी साबित होंगे। उन्होंने कहा कि ताखा के एस0 एस0 महाविद्यालय एवं हैवरा के चौ0 चरण सिंह महाविद्यालय में इफको द्वारा अत्याधुनिक मृदा परीक्षण प्रयोगशालाओं की स्थापना की गयी है जिसमें मुख्य पोषक तत्वों के साथ-साथ सूक्ष्म पोषक तत्वों के परीक्षण की सुविधा है। उन्होंने कहा कि किसान भाई अपने खेतों की मिट्टी जांच करा कर सन्तुलित तरीके से उर्वरकों का प्रयोग करें जिससे किसान भाईयों की फसलों का उत्पादन भी बढ़ेगा तथा भूमि की उर्वरा शक्ति भी बनी रहेगी। श्री यादव ने कहा कि परियोजना के प्रारम्भ से ही परियोजना क्षेत्र में किसानों के लिए अच्छे कार्यक्रम चलाये गये हैं जिससे किसानों की खेती में बदलाव आया है और आमदनी में वृद्धि हुई है। उन्होंने किसानों से आग्रह किया कि परियोजना के माध्यम से बताई जा रही आधुनिक कृषि तकनीकों को अपनाकर अपना कृषि उत्पादन बढाएं।
उन्होंने कहा कि आज टेक्नोलोजी विकसित हो रही है। बीज व खाद आदि पर नये-नये शोध किये जा रहे हैं। किसानों को इन तकनीकों को अपनाना होगा और व्यवसायिक खेती करना होगा जिससे फसल की उपज अच्छी हो और किसानों को अपनी फसल का ज्यादा से ज्यादा मूल्य मिल सके।
विशिष्ट अतिथि आदित्य यादव, सभापति, पी.सी.एफ. ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में किसान एवं अन्य लोग पैसे के लिए सहकारी बैंकों पर ही निर्भर रहते हैं। केन्द्र की भाजपा सरकार ने जिला सहकारी बैंकों पर पुरानी करेंसी जमा कर नयी करेंसी निकालने पर रोक लगाने और अन्य सभी प्रकार के लेन-देन पर रोक लगाकर किसानों, गरीबों और मजदूर वर्ग की कमर ही तोड़कर रख दी है। केन्द्र सरकार पर किसान विरोधी होने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि यदि केन्द्र सरकार को देश के किसानों की जरा भी फिक्र होती तो वह सहकारी बैंकों पर रोक नहीं लगाती। श्री यादव ने जनहित में जिला सहकारी बैंकों पर लगी रोक तुरन्त हटाने की मांग की। उन्होंने युवाओं एवं कार्यकर्ताओं से आहवान किया कि पर्यावरण बचाव के लिए पेड़-पौधे अवश्य लगायें।
निदेशक इफको नई दिल्ली शीशपाल सिंह ने कहा कि इफको किसानां की अपनी सहकारी संस्था है जो प्रारम्भ से ही किसानों के हित में कार्य कर रही है।
कार्यकम की अध्यक्षता कर रहे अध्यक्ष आईएफएफडीसी लि0, नई दिल्ली गुरुप्रसाद त्रिपाठी ने अपने सम्बोधन में कहा कि बीज विधायन संयंत्र की स्थापना हो जाने से इस क्षेत्र के किसानों को लाभ मिलेगा और किसान उच्च गुणवत्ता युक्त बीज पैदाकर अपना कृषि उत्पादन भी बढ़ा सकेगे।

Nov 20, 2016 | Posted by in ख़बरों में | 0 comments
Premium Wordpress Themes by UFO Themes